Home शुभ संध्या / शुभ रात्री आँसू जानते हैं कौन अपना है

आँसू जानते हैं कौन अपना है

242
0
shubh sandhya bhakti status

आँसू जानते हैं कौन अपना है;
तभी तो अपनों के सामने टपक जाते है।

मुस्कुराहट का क्या है;
वह तो ग़ैरों से भी वफ़ा कर लेती है..!!

एक उम्र वो थी कि.
जादू में भी यक़ीन था…!

एक उम्र ये है कि.
हक़ीक़त पर भी शक़ है….!!

💐🌹
जय श्री श्याम🌷🌹🌺शुभ रात्रि🌷🌹🌺

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here