Home शुभ संध्या / शुभ रात्री कद्र करनी है तो जीते जी करें

कद्र करनी है तो जीते जी करें

155
0
shubh sandhya bhakti status

“कद्र” करनी है तो “जीते जी” करें
“मरने” के बाद तो “पराए” भी रो देते हैं
आज “जिस्म” मे “जान” है तो
देखते नही हैं “लोग”
जब “रूह” निकल जाएगी तो
“कफन” हटा हटा कर देखेंगे
किसी ने क्या खूब लिखा है
“वक़्त” निकालकर
“बाते” कर लिया करो “अपनों से”
अगर “अपने ही” न रहेंगे
तो “वक़्त” का क्या करोगे
“गुरुर” किस बात का… “साहब”
आज “मिट्टी” के ऊपर
तो कल “मीट्टी के नीचे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here